अगर आप हेडफोन लगाकर इस तरह गाने सुनते है तो हो सकते है बहरे

0
184
Headphone is danger- bcmedia

म्यूजिक हर दौर में रहा है और आगे भी रहेगा. जब इलेक्ट्रॉनिक युग आया तो ग्रामोफोन, टेप रिकॉर्डर और रेडियो से गाने सुने जाने लगे . फिर डेक , वॉकमेन और एमपी3 प्लेयर आया , लेकिन आज तो बस मोबाइल ही काफी है. एक फ़ोन में हजारो गाने सेव होते है. बस ईयरफ़ोन या हेडफोन लगाया और मस्ती में गुनगुनाते चले गए. यहाँ तक तो सुनने में काफी अच्छा लगता है लेकिन इसके बाद जो बातें होती है वो बहुत डरावनी है. रास्ते में हेडफोन लगाकर म्यूजिक सुनने के चक्कर  में कई लोग अपनी जान गवां चुके है . इतना ही नहीं ड्राइविंग के दौरान भी लोग हेडफोन लगाकर म्यूजिक सुनते है यह भी बेहद खतरनाक है. हेडफोन के उपयोग को लेकर जो नई रिपोर्ट सामने आई है वो काफी डराने वाली है.

If you listen to songs like this by putting headphones then it may be deaf

स्मार्टफ़ोन पर आगर तेज़ आवाज में गाने सुनने की लत है तो सतर्क हो जाइए क्यूंकि यूनाइटेड नेशन की रिपोर्ट के अनुसार स्मार्टफ़ोन में म्यूजिक सुनने और लगातार तेज आवाज के संपर्क में रहने की वजह से दुनियाभर के करीब एक अरब से ज्यादा लोगो पर बहरेपन का खतरा है उनकी उम्र 12 से 35 के बीच है. WHO की रिपोर्ट  के मुताबिक कम सुनने की समस्या के चलते दुनियाभर में 75 करोड़ डॉलर खर्च होने का अनुमान है. अगर बहरेपन का शिकार होने से बचना है तो स्मार्ट फ़ोन में दी गयी गाइडलाइन्स को जरुर फॉलो करें.

इंसानों में आवाज सुनने की एक लिमिट होती है जिसे डडेसिबल में बांटा गया है. इंसान 0 से 140 डेसिबल तक की आवाज को सुन सकते है. पटाखों से जो आवाज होती है वह 150 डेसिबल होती है जिससे सुनना काफी मुश्किल होता है. इसी तरह बार या डिस्को में आवाज काफी तेज होती है ये लगभग 110 डेसिबल तक होती है. वहीं फुल वॉल्यूम में हेडफोन से भी १०५ डेसिबल तक आवाज होती है. डेढ़ मिनट से जयादा ११० डेसिबल तक म्यूजिक सुनना नुकसानदेह है.

if-you-listen-to-songs-like-this-by-putting-headphones-then-it-may-be-deaf
if-you-listen-to-songs-like-this-by-putting-headphones-then-it-may-be-deaf – bc media

कैसे रहें सुरक्षित : ईयरफोन और हेडफोन का बाज़ार काफी तेज बढ़ रहा है लेकिन आप इससे होने वाले खतरे को लेकर सतर्क रहें , क्यूंकि जयादा आवाज केबल कानो को ही नहीं बल्कि आपके शरीर को भी नुकसान पहुंचा सकती है. इन उपायों को अपनाकर खतरे से बच सकते है आप :

  • ईयरफोन का इस्तेमाल कम से कम करने की आदत डालें. हाँ अगर आपको घंटो ईयरफोन लगाकर काम करना होता है तो हर घंटे पर कम से कम ५ मिनट का ब्रेक लें. अच्छी क्वालिटी का ही ईयरफोन इस्तेमाल करें. ईयरबड की वजह हेडफोन का ही प्रयोग करें क्यूंकि यह बाहरी कान में लगते है.
  • आवाज से परेशानी है तो नॉइज़ कैंसलेशन वाले हेडफोन का इस्तेमाल करे.
  • मोबाइल में ईयरफोन मोड में जब आप तेज आवाज करते है तो बीच में एक संकेत आता है कि इससे ज्यादा आवाज करने से नुकसान हो सकता है. ऐसे में आप उस संकेत का पालन करें.
  • कम आवाज में भी गाने सुन रहें तो कोशिश करें कि लम्बे समय तक न सुने. बीच-बीच में काम को थोडा विराम जरुर दें. इससे आप खुद ही रहत महसूस करेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here